पुस्तकालय विज्ञान की तकनीक को सीखकर आप भी आत्मनिर्भर बन सकते हैं | - Nai Ummid

पुस्तकालय विज्ञान की तकनीक को सीखकर आप भी आत्मनिर्भर बन सकते हैं |

                           
👉 https://docs.google.com/forms/d/e/1FAIpQLSeHRMJEPQ4SNWcBYyh1Ib_f6lt9MfIiDcB4lbVD5ZpCurBIOA/viewform
Double click.
 रत्नेश कुमार :-    खुदा बख्श ओरिएंटल पब्लिक लाइब्रेरी पटना के लाइब्रेरियन सर अफरोज अहमद जो 18 वर्षीय अनुभव लाइब्रेरी ऑटोमेशन तकनीक ऑनलाइन सॉफ्टवेयर संचालन  के पठन-पाठन में संपूर्ण भारत के छात्र छात्राओं को जो किसी भी विश्वविद्यालय में नामांकित  पुस्तकालय विज्ञान की बैचलर डिग्री कोर्स पीएचडी स्तर तक के कोर्स में नामांकन कर पढ़ रहे छात्रों को या नौकरी में तकनीकी शिक्षा को  पुनः सीख कर पुस्तकालय विज्ञान को संचालित करने का हुनर सीख सकते हैं मौजूदा आर आई एल एस संस्था त्रिपोलिया पटना लगातार हर वक्त हर महीने ऑनलाइन सॉफ्टवेयर कोर्स के बारे में व्हाट्सएप Facebook के माध्यम से लिंक जारी किए जाते हैं जिनमें विभिन्न प्रकार के कोर्स कि तकनीकी जैसे लाइब्रेरी कैटलॉग लाइब्रेरी क्लासिफिकेशन बारकोडिंग आईसीटी ट्रेनिंग एवं अनेकानेक सॉफ्टवेयर सॉफ्टवेयर ई ग्रंथालय  KOHA, Libsys Dspac व इनके कुशल संचालन मेंटेनेंस इत्यादि की ऑनलाइन एवं ऑफलाइन पढ़ाई करवाते हैं, से लेकर मेंटेनेंस तक के कार्यों को सिखाया जाता है जिनको  सीखने वाले छात्र छात्रों को वह लाइब्रेरी प्रोफेशनल  जो नौकरी में भी होते हैं उनको सर्टिफिकेट प्रदान किया जाता है|| 

नई उम्मीद से बातचीत में सर ने कुछ निम्न बातों को सामने रखा:-  करोना covid 19 में ऑनलाइन शिक्षा के माध्यम से इन सभी पुस्तकालय विज्ञान तकनीकों को पढ़ाया जा रहा है नीचे दिए गए लिंक पर आप क्लिक करके इसे पढ़ सकते हैं और इससे जुड़कर अपनी पढ़ाई कर सकते हैं|| रंगनाथन इंस्टिट्यूट ऑफ लाइब्रेरी साइंस त्रिपोलिया पटना से संस्था का संचालन ऑनलाइन कोर्स के माध्यम से समय-समय पर किया जाता रहा है अभी 11 जनवरी से 20 जनवरी 2021  तक 10 दिनों का koha लाइब्रेरी सॉफ्टवेयर पढ़ाया जाएगा जिनके विशेष कार्यक्रम above link दिए जा रहे हैं जिनको पढ़ें और इससे इनको क्लिक कर अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं| 

 दिव्यांग वैसे छात्र जो पुस्तकालय विज्ञान की पढ़ाई करेंगे उनको सॉफ्टवेयर की जानकारी ऑनलाइन व ऑफलाइन संस्था के द्वारा नि:शुल्क की जाएगी उन छात्रों को भी अपना रजिस्ट्रेशन समय-समय पर दिए गए लिंक पर क्लिक कर जुड़ना होगा, अपनी पूरी जानकारी उसमें दर्ज करनी होगी |कोर्स करने के बाद उनको एक सर्टिफिकेट भी दिया जाएगा जिसका उपयोग व आने वाले प्रतियोगिता परीक्षाओं में कर सकते हैं नौकरी में  भी|


आज की परिचर्चा में इस्लामिया टीचर्स ट्रेनिंग( बीएड) महाविद्यालय ,फुलवारी शरीफ कॉलेज के पुस्तकालय अध्यक्ष संतोष कुमार कश्यप , डीएसएसबी के  लाइब्रेरियन  ,पटना हाईकोर्ट के अधिवक्ता विकास कुमार सिंह व पटना विश्वविद्यालय, मगध विश्वविद्यालय के पुस्तकालय विज्ञान छात्र इस बैठक में अपने अपने विचार व समस्याओं को प्रकट किया जिन पर विचार करते हुए हमारी तकनीकी सहायकों ने इसके प्रचार-प्रसार पर समस्याओं को संबंधित विभागों में पहुंचाने हेतु अपनी वचनबद्धता दिखाई|

 अनेक छात्रों ने  पहल के लिए जिसमें रोजगार संबंधी विचारों पर भी मंथन किया गया| दिव्यांग जनों के साथ साथ सामान्य जनों को भी उनको कुशल मार्गदर्शन करते हुए जो जिस तकनीक में कुशल होंगे अपनी योग्यता के आधार पर पुस्तकालय विज्ञान में रोजगार हेतु प्रशिक्षण देकर हम उन्हें काबिल बनाएंगे|  इसमें सहयोग करने के लिए सुजीत साहू लाइब्रेरी ऑटोमेशन एक्सपर्ट एनआईटी पटना , आर आई एल एस के तकनीकी सहायक देवाशीष पंडित  पाल के द्वारा कुशल संचालन कर विद्यार्थियों को मार्गदर्शन दिया जाएगा,पुस्तकालय संबंधी रिक्तियों का पता  करवाएगी जिससे ना सिर्फ राज्य में बल्कि देश में भी पुस्तकालय अध्यक्षों की नियुक्ति हो सके|| 



  

Previous article
Next article

Leave Comments

टिप्पणी पोस्ट करें

Articles Ads

Articles Ads 1

Articles Ads 2

Advertisement Ads