क्या चिल्लरों से BMW कार खरीदी जा सकती है, जानिए कहाँ हुआ यह करामात - Nai Ummid
3033-px-757.jpg

क्या चिल्लरों से BMW कार खरीदी जा सकती है, जानिए कहाँ हुआ यह करामात


आज का जमाना ऐसा हो गया है कि चिल्लर कोई लेना नहीं चाहता। यही कारण है कि चिल्‍लर से व्‍यापारी, ग्राहक, बैंककर्मी हर कोई परेशान है। इतना ही नहीं अब भगवान को भी चिल्लर से परेशानी होने लगी है इसलिए तो मंदिरों के मुख्य द्वार की दान पेटी में एक नोटिस लगा होता है जिसमे लिखा होता है की :- 'कृपया सिक्‍के न डालें'।

लेकिन क्या आप जानना चाहेंगे कि जब भिखारी से लेकर भगवान तक इन चिल्लर से परेशान है तो आखिर कहाँ पर चिल्लर से BMW कार खरीदा गया।

कार खरीदने वाला यह शख्स एक बस का ड्राइवर था जिसका हमेशा से ही सपना लग्जरी कार खरीदने का था। इसके लिए वह काफी समय से सिक्के जमा कर रहा था। और जमा करते-करते उसे खुद ही पता नहीं चला कब उसके पास 50 लाख से अधिक रुपये जमा हो गया।

पैसा जमा होते चीन के टोंगरेन नामक शहर में रहने वाला एक शख्स चिल्लर से भरा एक ट्रक लेकर बीएमडब्लू कार के शोरूम आ पहुंचा। वहां के कर्मचारी ट्रक में भरे हुए सिक्के देखकर हक्का-बक्का रह गए। शोरूम के मैनेजर से बातचीत में कहा कि मुझे BMW कार खरीदना है। इसके बाद क्या था मैनेजर पूरी तरह से टेंशन में आ गया और बोला की इतने सारे चिल्लर सिक्के मै कैसे गिनूंगा और इसे कहा जमा करूंगा। बैंक भी इतने चिल्लर लेगा की नहीं। 

यह सुनकर पहले तो वो काफी दुखी हुआ लेकिन जब उसने अपने मन की बात बताते हुए कहा कि यह कार खरीदने का सपना मैं कई वर्षों से देख रहा हूं। इसके लिए दिन रात मेहनत की, पाई-पाई जोड़ी और तब जाकर मै इतनी बड़ी रकम इकठ्ठा कर सका हूँ।

इसके बाद मैनेजर से नहीं रहा गया और उसका दिल पिघल गया। इस प्रकार और उस ग्राहक का वर्षों का सपना पूरा हो सका।

हालात यह उत्पन्न हो गया कि शोरूम ने सिक्के को गिनने के लिए बैंक में फोन कर 11 कर्मचारियों को बुलाया और 10 घंटे की मशक्कत के बाद 900 किलो के यह सिक्के गिने गए। सिक्कों की गिनती पुरी होते ही शोरूम तालियों से गूंज गया। और मैनेजर ने गाड़ी की चाबी इस शख्स को सौंप दिया।


Previous article
Next article

Leave Comments

टिप्पणी पोस्ट करें

Articles Ads

Articles Ads 1

Articles Ads 2

Advertisement Ads